बीजेपी नेता ने कहा- कुरान में है तीन तलाक का हल, उलेमा आगे तो आएं

राजनीती

ये बात सौ फीसद सच है कि तीन तलाक के मसले का हल कुरान में ही है. लेकिन इसके लिए समझदार मौलानाओं के आगे आने की जरूरत है. सभी मिल बैठकर बात करें. ये कहना है भाजपा नेता और पूर्व राज्यसभा सांसद साबिर अली का.

न्यूज 18 हिन्दी से उन्होंने कहा कि आजकल टीवी डिबेट और अखबारों में जो मौलाना बयानबाजी कर रहे हैं उनके पास डिग्रियां तो हैं, लेकिन किसी भी मसले की सही-सही पूरी जानकारी नहीं है.

हर एक मौलाना अपने विचारों के हिसाब से तीन तलाक की जानकारी दे रहा है. जबकि हकीकत ये है कि अगर कहीं कुछ गलत है तो उलेमा-ए-इकराम आपस में बैठकर उसका सही हल निकाल सकते हैं.

तीन तलाक के मामले में भाजपा के दखल पर उनका कहना है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने तो किसी मसले पर उससे जुड़ी परेशानी बताई है. उसमें कोई दखल नहीं दिया है.
 

अब ऐसे में हमारे उलेमाओं को चाहिए कि वह उस परेशानी का कुरान और शरीयत की राेशनी में हल निकालें. परेशानी ये है कि लोग जज्बात से काम ले रहे हैं तालीम के हिसाब से नहीं.

सरकार देने के लिए बैठी है और मुसलमान सो रहे हैं

केन्द्र सरकार के तीन साल पूरे होने और अल्पसंख्यक मंत्रालय की योजनाओं के बारे में साबिर अली का कहना है कि प्रधानमंत्री ने अल्पसंख्यकों के लिए बहुत सारी योजनाएं चलाई हुई हैं.

मुसलमानों को उसका फायदा भी पहुंचा है. लेकिन योजनाओं के मुकाबले मुसलमान फायदा नहीं ले पा रहे हैं. मुसलमान सो रहे हैं जबकि सरकार उन्हें फायदा पहुंचाने के लिए बैठी हुई है.


Comment






Total No. of Comments: