आखिर क्यों एक ही दुपट्टे से झूले प्रेमी प्रेमिका

शाहजहाँपुर आसपास

 

एंकर जनपद शाहजहांपुर के मदनापुर थाना क्षेत्र के पंखा खेड़ा  गांव में प्यार में साथ जीने-मरने की कसमें खाने वाला एक प्रेमी जोड़ा इस तरह अपनी जिंदगी की जंग हार जाएगा शायद ही किसी ने सोचा हो। प्यार की कसमें खाने वाले ये दोनों प्यार में जी नहीं पाए तो मौत को गले लगा लिया। परिवार वालों ने दोनों का मिलना-जुलना क्या बंद करवाया दोनों फांसी के फंदे पर ही झूल गए।दोनों ‌का प्रेम प्रसंग चला आ रहा था। दोनों एक साथ जीने-मरने की कसमें खा चुके थे लेकिन परिजन शादी नहीं होने देना चाहते थे। लेकिन प्रेमोन्मत्त प्रेमी युगल के एक ही पेड़ पर एक ही डाल पर फांसी के फंदे पे लटकते शव मिले। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शवों को उतरवाकर कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम कराया है।

वी/ओ 01 मदनापुर थाना क्षेत्र के गांव बरुआ में हाकिम कश्यप की बेटी पूजा और रिश्तेदार सुखदयाल का बेटा विपिन एक दूसरे से प्रेम करते थे। शुक्रवार रात में पूजा और विपिन अपने-अपने घर से निकल गए। पूजा के जाने की जानकारी उसके परिजनों को नहीं लगी, लेकिन विपिन के परिजनों को पता लग गया कि वह घर पर नहीं है। विपिन की तलाश में उसके परिजन लग गए।

शनिवार सुबह पूजा की गैरमौजूदगी की जानकारी भी उसके परिजनों को हो गई। इस दौरान विपिन के परिजन पंखाखेड़ा गांव पहुंचे, वहां उन्होंने विपिन की फोटो ग्रामीणों को दिखाई। तब ग्रामीणों ने बताया कि बहगुल नदी के किनारे बबूल के पेड़ से एक युवक और एक युवती फांसी के फंदे पर लटक रहे हैं। तब विपिन और पूजा के परिजन वहां पहुंचे उन लाशों को देखकर पहचान की। दोनों परिवारों में कोहराम मच गया। पुलिस को बुलाया गया, पंचनामा किया गया। पोस्टमार्टम के लिए भेजे गए। इधर परिजनों ने विपिन की हत्या की आशंका जताई है। पुलिस हर बिंदु पर जांच पड़ताल कर रही है।


Comment






Total No. of Comments: