पंजाब के AAP नेताओं में रार, मांगा घुग्गी का इस्तीफा

पंजाब

पंजाब और उसके बाद दिल्ली एमसीडी में करारी हार के बाद अब कहीं ना कहीं आम आदमी पार्टी के नेताओं में मंथन और चिंतन का दौर शुरू हो गया है. पार्टी नेताओं के बयान अब पार्टी के लिए सरदर्द बनते जा रहे हैं. भगवंत मान, एच एस फुल्का के बाद अब आप विधायक और नेता सुखपाल खैरा ने भी आम आदमी पार्टी के नेताओं को नसीहत दी है.

आपको बता दें कि, पंजाब आप नेता सुखपाल खैरा ने संजय सिंह और दुर्गेश पाठक के इस्तीफे का स्वागत करते हुए कहा है कि पंजाब पार्टी के कन्वीनर गुरप्रीत घुग्गी को भी अब अपनी आत्मा की आवाज़ पर पार्टी हित में फैसला लेना चाहिए. खैरा का कहना है कि इन तमाम मुद्दों को वो जल्द अरविंद केजरीवाल के सामने भी रखेंगे. अगर 2019 का चुनाव जीतना है तो इन मुद्दों पर फैसला लेना ही होगा. पंजाब के नेताओं के हाथ में पंजाब की कमान देनी ही होगी और साथ ही खैरा ने ईवीएम पर भी निशाना साधा है.

गौरतलब है कि चंडीगढ़ में आज आम आदमी पार्टी के विधायकों की बैठक हुई जिसमें आगे की रणनीति पर विचार हुआ. पंजाब नेता विपक्ष एच एस फुल्का ने कहा की दुर्गेश पाठक और संजय सिंह का इस्तीफा पहले ही हो जाना चाहिए था. लेकिन एमसीडी चुनाव के चलते नहीं हुआ और हम उनके इस्तीफे का स्वागत करते हैं.

फुल्का ने कहा कि चुनाव में कईं तरह की गलतियां उनकी पार्टी से हुई, जिन्हें खुद केजरीवाल भी मानते हैं. इसीलिए केजरीवाल ने कहा है कि वह फिर से नये सिरे से शुरुआत करना चाहते हैं. हम गलतियों की जांच कर रहे हैं इसके बाद ही कोई निष्कर्ष निकाला जाएगा. और अब पंजाब की कमान पंजाब के नेताओं के हाथ में है.

आपको बता दें कि खुद फूल्का ने यह कहा कि अब सारे निर्णय मैं ले रहा हूं और दिल्ली के नेताओं का इंटरफेयर कहीं नहीं है.


Comment






Total No. of Comments: