गोरखनाथ मंदिर से आरहे अपराधियों को छोड़ने के लिए पुलिस के पास झूठे फ़ोन

दिल्ली

 


अभिषेक कुमार सिंह (गोरखपुर) गोरखनाथ मंदिर से बात करने का हवाला देते मनबढ़ ने फोन पर थानेदार को हड़काना शुरू कर दिया। पकड़े गए वारंटियों को तत्काल न छोड़ने पर अंजाम भुगतने की चेतावनी देने लगा। फोन करने वाले के बारे में जानकारी के लिए थानेदार ने मंदिर में फोन किया तो उसका झूठ पकड़ में आया। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया।

गुरुवार की रात गुलरिहा पुलिस ने बूढ़ाडीह में दबिश देकर दो वारंटियों कमलेश और सदानंद को गिरफ्तार किया था। शुक्रवार की सुबह करीब 11 बजे प्रभारी एसओ अक्षय मिश्रा के पास वारंटी का एक रिश्तेदार पहुंचा। गोरखनाथ मंदिर के एक व्यक्ति से बात करने की जानकारी देते हुए अपना फोन उन्हें थमा दिया। दूसरी तरफ से बात करने वाले ने अपना नाम रमेश पांडेय बताया। एसओ को हड़काते हुए उसने गोरखनाथ मंदिर से बोलने की जानकारी दी। पकड़े गए युवकों को छोड़ने के लिए दबाव देने के साथ ही बात न मानने पर अंजाम भुगतने की चेतावनी देने लगा। फोन करने वाले की हरकत से एसओ दंग रहे गए। फोन करने वाले के मोबाइल पर उन्होंने काल किया तो स्वीच ऑफ बताने लगा। प्रभारी एसओ ने मंदिर में फोन करके कार्यालय प्रभारी द्वारिका तिवारी को मामले की जानकारी दी तो उन्होंने फोन करने वाले के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने को कहा। जिसके बाद थानेदार ने रमेश पांडेय नाम के व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया।


Comment






Total No. of Comments: